सोमवार, जून 21, 2021
होमGovernment schemesPM Kisan FPO Yojana : किसानों के लिए खुशखबरी मिल रहे हैं...

PM Kisan FPO Yojana : किसानों के लिए खुशखबरी मिल रहे हैं 15 लाख रूपये, जानें कैसे करना होगा रजिस्ट्रेशन

किसानों की आय दोगुनी करने के लिए मोदी सरकार हर संभव प्रयास कर रही हैं इसके लिए विभिन्न योजनायें भी लेकर आ रही हैं जिससे किसानों को फायदा मिले. ऐसे ही एक योजना प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना है. इस योजना के अंतर्गत सरकार किसानों के उत्पादन संगठन को वित्तीय रूप से मदद कर रही है. उन्हें इसके लिए 15 – 15 लाख रूपये दिए जा रहे हैं. ताकि वे अपनी कृषि को बेहतर कर सकें. इससे उन्हें उतना लाभ पहुंचेगा जितना किसी व्यवसाय को शुरू करने पर पहुँचता है. आइये इस लेख में आपको इस योजना की जानकारी देते हैं.

प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना क्या है
प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की गई योजना है, जिसमें एफपीओ का पूरा नाम फार्मर प्रोडूसर आर्गेनाइजेशन यानि किसान उत्पादक संगठन है. यानि इस योजना में लगभग 11 किसानों का एक ग्रुप बनाया जायेगा जो अपना एक कृषि उत्पादन संगठन या कंपनी बनायेंगे. उन संगठन या कंपनी को सरकार 15 लाख रूपये देगी. जिससे वे अपनी कृषि को बेहतर करके एक बिज़नेस की तरह लाभ कमा सकते हैं. यह पैसे सरकार 3 साल में किस्तों के आधार पर प्रदान करेगी.

प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना में मुख्य शर्तें
इस योजना में शामिल होने वाले लाभार्थी किसानों के लिए सबसे पहली शर्त यह है कि किसानों को अपना एक ग्रुप बनाना होगा. जिसमें छोटे एवं सीमांत किसान शामिल होंगे और एक ग्रुप में किसान कि संख्या कम से कम 11 होनी चाहिए. तभी किसानों को इस योजना का लाभ मिल सकेगा.

- Advertisement -

यदि किसानों का यह संगठन मैदानी क्षेत्र में मौजूद हैं उस संगठन के साथ कम से कम 300 किसान जुड़ने चाहिए. और यदि यह पहाड़ी इलाकों में है तो इसकी संख्या 100 हो सकती है.

इस योजना में किसानों का एक संगठन के रूप में अपना रजिस्ट्रेशन कराना आवश्यक है.

- Advertisement -

इसके अलावा किसान जिस तरह का कार्य करते हैं उसकी संबंधित अधिकारीयों द्वारा जाँच की जाएगी. यदि उन्हें इसकी रिपोर्ट सही समझ में आती हैं तो इसके बाद सरकार की ओर से किसानों के संगठन को 15 लाख रूपये लाभ दिये जाएंगे.

प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना के लाभ
इस योजना से कृषि उत्पादन बढ़ेगा, रोजगार के अवसर बढ़ेंगे, किसान बिचौलियों से बच सकेंगे. इसके साथ ही उत्पादन बढ़ेगा तो बिक्री के लिए उचित बाजार भी बढ़ेगा.

इस योजना के माध्यम से किसानों को खाद, बीज, दवाइयाँ एवं कुछ कृषि उपकरण कि व्यवस्था कि चिंता नहीं करनी होगी यह उन्हें आसानी से प्राप्त हो सकेंगे.

इस योजना में किसानों के संगठन को ठीक उसी तरह के सभी लाभ मिल सकेंगे जो किसी अन्य आर्गेनाइजेशन को मिलते हैं. किन्तु इस संगठन में कारपोरेटिव एक्ट लागू नहीं होगा.

प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना में लगने वाले दस्तावेज
इस योजना में जब किसान एक संगठन या कम्पनी के रूप में रजिस्टर होंगे तो उन्हें अपने संगठन से संबंधित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी.

इसके अलावा प्रत्येक किसान की पहचान के लिए सभी का आधार कार्ड नंबर एवं पासपोर्ट आकार की फोटो आवश्यक होगी.

प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना में आवेदन कैसे करें
यदि आपको प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना का लाभ प्राप्त करना है तो उन्हें थोड़ा सा इंतज़ार करना होगा. क्योंकि इस योजना कि सरकार ने अभी सिर्फ घोषणा की है, इसके रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी अभी सरकार द्वारा नहीं दी गई है. इसके लिए सरकार जल्द ही एक पोर्टल की शुरुआत कर सकती हैं. जिसकी जानकारी आपको पोर्टल लांच के बाद इस लेख के माध्यम से मिल जाएगी.

कृषि के लिए विभिन्न कृषि संबंधित संयंत्रों की आवश्यकता होती है, किसानों को इसकी सुविधा भी सकरार प्रधानमंत्री कृषि संयंत्र योजना के तहत दे रही है.

अतः इस तरह सरकार की इस किसान एफपीओ योजना के माध्यम से किसान अब अपनी कृषि को बेहतर करके उत्पादन क्षमता को बढ़ा सकते हैं. इससे उन्हें किसी बिज़नेस की तरह ही लाभ मिल सकता है.

अंश, द रियल लाइफ हीरो | 7 साल के मैराथन रनर की कहानी





कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments