Friday, July 19, 2024
HomeNewsभारत के सामने बाबर आजम के बस की बात नहीं T20 क्रिकेट,...

भारत के सामने बाबर आजम के बस की बात नहीं T20 क्रिकेट, PCB ने लिया कप्तानी से हटाने का फैसला

एक ओपनर की जिम्मेदारी होती है कि वह टीम के लिए मैच की टोन सेट करे। चौके-छक्के लगाए और टीम के लिए तेज गति से रन बनाए। फिर चाहे बात पहले बल्लेबाजी करनी हो या फिर रन चेज करते हैं। हालांकि, इस काम में पाकिस्तान टीम के कप्तान बाबर आजम बुरी तरह फेल नजर आ रहे हैं। बाबर आजम ने तीन टी20 वर्ल्ड कप खेले हैं और एक बार भी वे पावरप्ले में एक छक्का तक नहीं जड़ पाए हैं। इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि बाबर आजम टी20 स्टार हैं या नहीं? बाबर आजम ने तो यहां तक कहा है कि वे टी20 वर्ल्ड कप 2024 में किसी एक प्लेयर की वजह से नहीं, बल्कि टीम के तौर पर मैच हारे।

ओपनर करोगे तो टीम को इससे क्या लाभ होगा?

बाबर आजम के इस बयान से ये मायने निकाले जा सकते हैं कि जब आप इतनी धीमी बल्लेबाज पावरप्ले में और मैच में बतौर ओपनर करोगे तो टीम को इससे क्या लाभ होगा? क्योंकि आंकड़े बताते हैं कि 207 गेंदें बाबर आजम ने तीन टी20 वर्ल्ड कप (2021, 22 और 2024) के 17 मैचों में पावरप्ले में खेली हैं, जहां फील्डर क्लोज होने के बावजूद वह एक छक्का तक नहीं जड़ सके हैं।

इतना ही नहीं, एकमात्र मैच में उन्होंने 130 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट (वह भी 130.77) से बल्लेबाजी की, जो भारत के खिलाफ 2021 के टी20 वर्ल्ड कप में खेला गया था। इसके अलावा बाकी के 16 मैचों में उनका स्ट्राइक रेट औसत तौर पर 111.36 का है।

8 छक्के 17 मैचों में उन्होंने लगाए

ये आंकड़ा इस बात को भी दर्शाता है कि भले ही वह पारी को एंकर करने का बात करते हों, लेकिन इतनी धीमी गति से टी20 क्रिकेट में बल्लेबाजी टीम के लिए कोई फायदा नहीं कराएगी। 8 छक्के 17 मैचों में उन्होंने लगाए हैं, जहां वे ओपनर या नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने उतरे हैं।

अब ऐसा भी नहीं है कि आप पारी को एंकर करते हैं तो दूसरे छोर से तेज गति से रन बनते हैं। मोहम्मद रिजवान उनके साथ ओपनर के तौर पर बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन उनका हाल भी ऐसा ही है। रिजवान 113 के स्ट्राइक रेट के करीब से टी20 वर्ल्ड कप में रन बनाने में सफल हुए हैं।

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में पावरप्ले में 1000

आपको जानकर हैरानी होगी कि पिछले साल पाकिस्तान की टीम ने वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में पावरप्ले में 1000 से ज्यादा गेंदों का सामना किया था, लेकिन एक भी छक्का नहीं जड़ा था।

अब अंदाजा लगा सकते हैं कि इस तरह की अप्रोच से आप अगर व्हाइट बॉल क्रिकेट को खेलोगे तो फिर कैसे सफलता मिलेगी? पाकिस्तान की टीम बाबर आजम की कप्तानी में तीन टी20 विश्व कप में कुल 17 मुकाबलों में से 11 मुकाबले जीती है और 6 मैच टीम हारी है। इनमें से दो मैच भारत के खिलाफ पाकिस्तान ने गंवाए हैं, जबकि एक-एक मैच पाकिस्तान ने यूएसए, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और जिम्बाब्वे के खिलाफ गंवाया है।

इसे भी पढ़ें –

Vinod Maurya
Vinod Maurya
Vinod Maurya has 2 years of experience in writing Finance Content, Entertainment news, Cricket and more. He has done B.Com in English. He loves to Play Sports and read books in free time. In case of any complain or feedback, please contact me @informalnewz@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments