Wednesday, December 7, 2022
HomeNewsBig Latest News! Gujarat Bridge Tragedy Live Updates: मच्छु नदी में हादसे...

Big Latest News! Gujarat Bridge Tragedy Live Updates: मच्छु नदी में हादसे वाली जगह सर्च ऑपरेशन फिर शुरू, NDRF व Navy की टीमें तैनात, जानिए नया अपडेट

Morbi Bridge Collapse Live: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मोरबी जाएंगे और पुल हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों से मुलाकात करेंगे. वह मोरबी सिविल अस्पताल का दौरा भी करेंगे और यहां घायलों का हालचाल जानेंगे. राजकोट रेंज आईजी अशोक यादव ने कहा, ‘हमारी प्रारंभिक जांच से पता चला है कि तकनीकी और संरचनात्मक खामियों, जिनमें प्रमाणीकरण के साथ-साथ रखरखाव के कुछ मुद्दे शामिल हैं, के कारण यह त्रासदी हुई.’ आपको बता दें कि मच्छु नदी में हादसे वाली जगह सर्च ऑपरेशन फिर शुरू, NDRF व Navy की टीमें तैनात, आइये जानते है नए अपडेट के बारे में

Bumper job! बैंक में इन पदों पर नौकरी पाने का गोल्डन चांस, आवेदन प्रक्रिया शुरू, 30000 मिलेगी सैलरी, check here full details

अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मोरबी जाएंगे और पुल हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों से मुलाकात करेंगे. वह मोरबी सिविल अस्पताल का दौरा भी करेंगे और यहां घायलों का हालचाल जानेंगे. 30 अक्टूबर की शाम मच्छु नदी पर बना 140 साल पुराना मोरबी केबल सस्पेंशन ब्रिज टूट गया था. इस हादसे में 134 लोगों की मौत हो गई, 200 से अधिक को रेस्क्यू किया गया. दुर्घटना में 20 से अधिक घायल हुए हैं. राजकोट रेंज आईजी अशोक यादव ने कहा, ‘हमारी प्रारंभिक जांच से पता चला है कि तकनीकी और संरचनात्मक खामियों, जिनमें प्रमाणीकरण के साथ-साथ रखरखाव के कुछ मुद्दे शामिल हैं, के कारण यह त्रासदी हुई.’ रविवार रात से शुरू हुआ राहत व बचाव कार्य सोमवार पूरे दिन चला. एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, फायर ब्रिगेड के अलावा भारतीय सेना, कोस्ट गार्ड, गरुड़ कमांडो की टीमें भी रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी रहीं.

मच्छु नदी में पुल हादसे वाली जगह पर तलाशी ​अभियान शुरू

Gujarat Bridge Collapse LIVE Updates: सर्च ऑपरेशन शुरू, नौसेना और एनडीआरएफ की टीमें तैनात
मोरबी में पुल हादसे वाले स्थल पर खोज अभियान फिर से शुरू हो गया है. भारतीय नौसेना और एनडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया है. मच्छु नदी में गोताखोर तलाशी कर रहे हैं. आपको बता दें कि नदी से अब तक 134 शव बरामद हो चुके हैं. रात में सर्च ऑपरेशन बंद कर दिया गया था.

Big News! India vs New Zealand: टीम इंडिया की सूरत बदली, रोहित शर्मा की जगह हार्दिक पंड्या को मिली कप्तानी जानिए वजह

Gujarat Morbi Bridge Tragedy: पीएम मोदी आज मोरबी जाएंगे, ये है उनका शेड्यूल
प्रधानमंत्री मोदी आज अपराह्न 3:45 मोरबी ब्रिज जाएंगे, जहां 30 अक्टूबर को हादसा हुआ था. वह यहां 15 मिनट रुकने के बाद शाम 4:00 बजे मोरबी सिविल अस्पताल जाएंगे और घायलों से मिलेंगे. इसके बाद शाम 4:15 बजे मोरबी एसपी कार्यालय जाएंगे.

गुजरात ब्रिज ट्रेजडी: पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार किया, जानें ये कौन हैं और क्या आरोप लगे हैं
मोरबी पुल त्रासदी के सिलसिले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें 134 की जान चली गई. आरोपियों में ओरेवा कंपनी के दो प्रबंधक शामिल हैं, जिन्होंने पिछले सप्ताह पुल के खुलने से पहले मरम्मत का काम किया था. लापरवाही के लिए गिरफ्तार होने वालों में 2 ठेकेदारों और 3 सुरक्षा गार्डों के साथ 2 टिकट क्लर्क भी शामिल हैं.

तकनीकी, संरचनात्मक खामियों और रखरखाव में कमी के कारण हुआ हादसा: 

राजकोट रेंज के आईजी अशोक कुमार यादव ने कहा कि पुलिस मोरबी पुल हादसे से जुड़े सभी पहलुओं की जांच के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों और स्ट्रक्चरल इंजीनियरों की मदद लेगी. उन्होंने कहा, ‘हमारी प्रारंभिक जांच से पता चला है कि तकनीकी और संरचनात्मक खामियों, जिनमें प्रमाणीकरण के साथ-साथ रखरखाव के कुछ मुद्दे शामिल हैं, के कारण यह त्रासदी हुई.’

मच्छु नदी में पुल हादसे वाली जगह और उसके आसपास ​आज भी खोज अभियान जारी रहेगा

मोरबी की मच्छु नदी में पुल हादसे वाली जगह और उसके आसपास ​आज भी खोज अभियान जारी रहेगा. नदी से अब तक 134 शव बरामद किए गए हैं. हादसे में जान गंवाने वालों में 48 बच्चे शामिल हैं. यह नदी करीब 25 फीट गहरी है. पानी गंदा होने की वजह से गोताखोरों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. पानी के अंदर विजिबिलिटी काफी कम है.

मोरबी की दुर्घटना पर फ्रांस और कनाडा ने भी जताया दुख

फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लिनेन ने लिखा, उनका देश मृतकों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता है. कनाडा के उच्चायुक्त कैमरून मैके ने कहा कि इस घटना से उनका दिल टूट गया है.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुजरात पुल हादसे पर जताया दुख

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी क्रेमलिन की वेबसाइट पर प्रकाशित किए गए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक संदेश में मोरबी हादसे को लेकर दुख जताया है. उन्होंने भारत के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से कहा कि कृपया गुजरात में पुल ढहने के दुखद हादसे पर मेरी संवेदना स्वीकार करें. रूसी सरकार की समाचार एजेंसी टीएएसएस की रिपोर्ट के अनुसार, पुतिन ने अपने संदेश में पीड़ितों के परिवारों और दोस्तों के प्रति सहानुभूति और समर्थन भी जताया. उन्होंने सभी घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने मोरबी हादसे पर जतायी गहरी संवेदना

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने गुजरात के मोरबी शहर में एक पुल टूटने से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों के प्रति सोमवार को गहरी संवेदना जतायी. उन्होंने कहा, ‘अमेरिका और भारत अपरिहार्य साझेदार हैं, हमारे नागरिकों के बीच गहरे संबंध हैं. इस कठिन घड़ी में हम भारतीयों के साथ खड़े रहेंगे और उनका समर्थन करना जारी रखेंगे.’

इस्राइल के प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर मोरबी हादसे पर जताया शोक

इस्राइल के प्रधानमंत्री यायर लैपिड ने अपने शोक संदेश में कहा कि गुजरात में पुल गिरने के बाद सभी इस्राइलियों की संवेदनाएं और प्रार्थनाएं भारत के लोगों के साथ हैं. उन्होंने ट्वीट किया, मैं जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

मोरबी पुल हादसा: श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने जताया शोक

श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे संदेश में कहा कि वह गुजरात के मोरबी में पुल ढहने की दुखद घटना से स्तब्ध और दुखी हैं. श्रीलंकाई राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है कि श्रीलंका के लोग और सरकार, भारत के लोगों, विशेष रूप से जान गंवाने वाले नागरिकों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करने में मेरे साथ शामिल हैं. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. बचाव कार्य में हर सफलता की कामना करता हूं.

Read Also: T20 World Cup 2022: Big Update! इसी मैदान पर 2 साल पहले भारत 36 पर हुआ था ऑल आउट…’ गावस्कर ने दिया पाकिस्तान को वापसी का मंत्र, जानिए क्या कहा

इससे पहले पीएम मोदी ने सोमवार शाम राजधानी गांधीनगर स्थित राजभवन में एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की. बैठक में सीएम भूपेंद्र भाई पटेल, गृह राज्य मंत्री हर्ष संघवी, गुजरात के मुख्य सचिव और डीजीपी सहित गृह विभाग और गुजरात राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के शीर्ष अधिकारी शामिल हुए. दुर्घटना को लेकर गुजरात सरकार ने 2 नवंबर को राज्यवापी शोक की घोषणा की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोरबी में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना के बाद जारी बचाव और राहत कार्यों के बारे में जानकारी ली और हादसे से जुड़े सभी पहलुओं पर चर्चा की. उन्होंने बैठक के दौरान एक बार फिर यह सुनिश्चित करने पर जोर दिया कि हादसे में प्रभावित लोगों को हर संभव मदद मिले.

ब्रिटिश कालीन पुल के रखरखाव और संचालन का ठेका ओरेवा समूह को मिला था. कंपनी के खिलाफ आईपीसी की गंभीर आपराधिक धाराओं में एफआईआर दर्ज हुई है. गुजरात एटीएस और मोरबी पुलिस ने सोमवार सुबह ओरेवा के 9 कर्मचारियों को हिरासत में लिया था. इनमें 2 प्रबंधक, 2 मरम्मत करने वाले कॉन्ट्रैक्टर पिता और पुत्र, 3 सुरक्षा गार्ड और 2 टिकट क्लर्क शामिल हैं. शाम को इनमें से 4 कर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया. आरोप है कि संचालक कंपनी ने एनओसी मिलने से पहले ही पुल को खोल दिया था

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments