Sunday, December 4, 2022
HomeNewsBig News! T20 WC Semifinal: भारत की हार के लिए सिर्फ ये...

Big News! T20 WC Semifinal: भारत की हार के लिए सिर्फ ये गेंदबाज ही जिम्मेदार? जानिए क्यों

IND vs ENG Semifinal: एडिलेड क्रिकेट स्टेडियम में बैठे भारतीय खेल प्रेमी गुरुवार को टूटे हुए दिल के साथ अपने-अपने घर लौटे. सोशल मीडिया पर तो टीम इंडिया को जमकर लताड़ लगाई गई. ज्यादातर ने गेंदबाजों को निशाना बनाया लेकिन असल में फैंस शायद शुरुआत भूल गए. आपको बता दें T20 WC Semifinal में भारत की हार के लिए सिर्फ ये गेंदबाज ही जिम्मेदार? आज हम इस के बारे में जानेंगे, जिसे भारत की हार का जिम्मेदार ठहराया जा रहा है

India vs England, T20 WC Semifinal: भारतीय टीम का टी20 वर्ल्ड कप-2022 में सफर गुरुवार को थम गया. उसे एडिलेड में खेले गए सेमीफाइनल मैच में इंग्लैंड के हाथों 10 विकेट से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी. मैच के बाद भारतीय खिलाड़ी बेहद निराश नजर आए. कप्तान रोहित शर्मा की आंखों में आंसू थे. स्टेडियम में बैठे भारतीय खेल प्रेमी टूटे हुए दिल के साथ अपने-अपने घर लौटे. सोशल मीडिया पर किसी ने साथ दिया तो किसी ने टीम इंडिया को जमकर लताड़ लगाई.

10 विकेट से हारा भारत

एडिलेड ओवल मैदान पर टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 168 रन बनाए. टीम इंडिया के लिए दो बल्लेबाजों ने अर्धशतक जमाए- हार्दिक पांड्या और विराट कोहली. हार्दिक ने 33 गेंदों पर 63 जबकि विराट ने 40 गेंदों पर 50 रनों का योगदान दिया. इसके बाद इंग्लैंड ने बिना कोई विकेट खोकर 16 ही ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया. कप्तान जोस बटलर ने 80 और एलेक्स हेल्स ने 86 रन बनाए और दोनों ही नाबाद लौटे.

इसे भी पढ़े-


 

बल्लेबाजी भी जिम्मेदार

हार के बाद बहुत से क्रिकेट फैंस ने गेंदबाजों को जिम्मेदार ठहराया. हालांकि बल्लेबाजों का भी योगदान इस हार में कुछ कम नहीं था. पूर्व कप्तान विराट कोहली ने भले ही अर्धशतक जड़ा लेकिन वह तेजी से रन नहीं बना पाए जिसकी इस फॉर्मेट में जरूरत होती है. विराट कोहली ने 40 गेंदों पर 4 चौके और 1 छक्का जड़ा लेकिन समय लेकर अपनी पारी को बढ़ाया. वहीं, केएल राहुल ने तो काफी निराश किया. सूर्यकुमार यादव लय में दिखाई दे रहे थे लेकिन वह ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाए. हार्दिक पांड्या की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने फिनिशर की भूमिका बखूबी निभाई और 33 गेंद में 4 चौके और 5 छक्के लगाकर 63 रन बनाए.

विकेट ही नहीं ले सके गेंदबाज

खास बात है कि ग्रुप चरण में टीम इंडिया टॉप पर रही लेकिन नॉकआउट में जलवा बरकरार नहीं रह सका. बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों ने भी खूब निराश किया. पेसर मोहम्मद शमी से लेकर अर्शदीप सिंह तक सभी नाकाम रहे और हेल्स तथा बटलर ने भारत-पाकिस्तान फाइनल की संभावनाओं पर पानी फेर दिया. भुवनेश्वर कुमार को ना स्विंग मिली और ना ही विकेट. टूर्नामेंट में अच्छा खेल दिखाने वाले युवा तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह पर रोहित ने भरोसा जताया लेकिन वह उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे.

भारतीय स्पिनर बुरी तरह फ्लॉप

एक तरफ जहां इंग्लैंड के स्पिनर्स ने कमाल दिखाया, रन गति पर लगाम लगाई तो वहीं भारतीय स्पिनर कुछ भी अच्छा नहीं कर पाए. अनुभवी रविचंद्रन अश्विन ने तीन ओवर में 27 रन दिए और कोई विकेट नहीं मिला. अक्षर पटेल ने 4 ओवर में 30 रन दिए. भारत के स्पिन विभाग की कमजोरी इस मैच में जैसे खुलकर सामने आ गई. अश्विन को तरजीह मिली लेकिन वह अपने अनुभव का कोई इस्तेमाल नहीं कर सके. वहीं, भुवनेश्वर ने 2 ओवर में 25 रन, अर्शदीप ने 2 ओवर में 15 , शमी ने 3 ओवर में 39 रन दिए.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments