सोमवार, जनवरी 18, 2021
होम Government schemes PM Matsya Sampada Yojana: प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के प्रमुख बिंदु लक्ष्य...

PM Matsya Sampada Yojana: प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के प्रमुख बिंदु लक्ष्य और उद्देश्य

10 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल माध्यम से प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana-PMMSY) का शुभारंभ किया। इस योजना के साथ-साथ प्रधानमंत्री ने ई-गोपाला एप भी लॉन्च किया, जो किसानों के प्रत्यक्ष उपयोग के लिये एक समग्र नस्ल सुधार, बाज़ार और सूचना पोर्टल है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने बिहार में मछली पालन और पशुपालन क्षेत्रों में भी कई पहलों की शुरुआत की।

Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana: PM मत्स्य सम्पदा योजना से जुड़े मुख्या बिंदु किसानो की जानकारी के लिए

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के प्रमुख बिंदु (PM Matsya Sampada Yojana)

- Advertisement -

PMMSY मत्स्य क्षेत्र पर केंद्रित एक सतत् विकास योजना है, जिसे आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत वित्त वर्ष 2020-21 से वित्त वर्ष 2024-25 तक (5 वर्ष की अवधि के दौरान) सभी राज्यों/संघ शासित प्रदेशों में कार्यान्वित किया जाना है।
इस योजना पर अनुमानत: 20,050 करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा।

PMMSY के अंतर्गत 20,050 करोड़ रुपए का निवेश मत्स्य क्षेत्र में होने वाला सबसे अधिक निवेश है।

- Advertisement -

इसमें से लगभग 12,340 करोड़ रुपए का निवेश समुद्री, अंतर्देशीय मत्स्य पालन और जलीय कृषि में लाभार्थी केंद्रित गतिविधियों पर तथा 7,710 करोड़ रुपए का निवेश फिशरीज़ इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिये प्रस्तावित है।

PM Kisan Mandhan Yojana: पीएम किसान मनधन योजना पंजीकरण ऑनलाइन पूर्ण विवरण कैसे लागू करें

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के लक्ष्य:(PM Matsya Sampada Yojana)

वर्ष 2024-25 तक मत्स्य उत्पादन में अतिरिक्त 70 लाख टन की वृद्धि करना,
वर्ष 2024-25 तक मत्स्य निर्यात से होने वाली आय को 1,00,000 करोड़ रुपए तक करना,
मछुआरों और मत्स्य किसानों की आय को दोगुनी करना,
पैदावार के बाद होने वाले नुकसान को 20-25 प्रतिशत से घटाकर 10 प्रतिशत करना
मत्स्य पालन क्षेत्र और सहायक गतिविधियों में 55 लाख प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोज़गार के अवसर पैदा करना।

[PMMSY] प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना 2020 आवेदन फॉर्म PDF

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के उद्देश्य(PM Matsya Sampada Yojana)

आवश्यकतानुरूप निवेश करते हुए मत्स्य समूहों और क्षेत्रों के निर्माण पर केंद्रित।
मुख्य रूप से रोज़गार सृजन गतिविधियों जैसे समुद्री शैवाल और सजावटी मछली की खेती पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
यह मछलियों की गुणवत्ता वाली प्रजातियों की नस्ल तैयार करने तथा उनकी विभिन्न प्रजातियाँ विकसित करने, महत्त्वपूर्ण बुनियादी ढाँचे के विकास और विपणन नेटवर्क आदि पर विशेष ध्यान केंद्रित करेगा।
नीली क्रांति योजना की उपलब्धियों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से कई नए हस्तक्षेपों की परिकल्पना की गई है जिसमें मछली पकड़ने के जहाज़ों का बीमा, मछली पकड़ने वाले जहाज़ों/नावों के उन्नयन हेतु सहायता, बायो-टॉयलेट्स, लवण/क्षारीय क्षेत्रों में जलीय कृषि, मत्स्य पालन और जलीय कृषि स्टार्ट-अप्स, इन्क्यूबेटर्स, एक्वाटिक प्रयोगशालाओं के नेटवर्क और उनकी सुविधाओं का विस्तार, ई-ट्रेडिंग/विपणन, मत्स्य प्रबंधन योजना आदि शामिल है।

 

Pension Update: If not done till November 30, this work will not get pension! SBI is offering online form filling

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments