Monday, March 4, 2024
HomeNewsअंडर 19 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में पाकिस्तान को...

अंडर 19 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में पाकिस्तान को हराया, चीख-चीख कर रोने लगे पाकिस्तानी खिलाड़ी, देखें वीडियो

Under 19 World Cup 2024: अंडर 19 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में पाकिस्तान को बुरी तरह हराया, हार के बाद चीख-चीख कर रोने लगे पाकिस्तानी खिलाड़ी, बोले वही हुआ जो सपने में नहीं सोचा था। पाकिस्तान की टीम को गुरुवार को खेले गए आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के हाथों करीबी हार का सामना करना पड़ा है. सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने महज 1 विकेट से पाकिस्तान को हराकर उसे कभी नहीं भूलने वाला गहरा जखम दे दिया है.

ICC Under 19 World Cup 2024: पाकिस्तान की टीम को गुरुवार को खेले गए आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के हाथों करीबी हार का सामना करना पड़ा है. सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने महज 1 विकेट से पाकिस्तान को हराकर उसे कभी नहीं भूलने वाला गहरा जखम दे दिया है. टॉम स्ट्रेकर के 6 विकेट और हैरी डिक्सन के अर्धशतक के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान पर एक विकेट की रोमांचक जीत हासिल कर आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल में प्रवेश किया, जिसमें उसका सामना भारत से होगा. फाइनल रविवार को खेला जाएगा.

 Read Alos: भारत में तहलका मचाने आ गया दमदार, शानदार, जानदार Vivo का 5G स्मार्टफोन, देखें डिटेल्स

हार का दर्द बयां नहीं कर पाया पाकिस्तान सेमीफाइनल में हार के बाद रोने लगे पाकिस्तानी क्रिकेटर्स

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल जैसे अहम मुकाबले में हार के बाद पाकिस्तान का आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट से सफर तुरंत खत्म हो गया. फाइनल में जाने का सपना टूटने के बाद पाकिस्तान के क्रिकेटर्स बीच मैदान पर रोने लगे. सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी क्रिकेटर्स के दिल तोड़ने वाले रिएक्शंस को देखा जा सकता है. पाकिस्तान के खिलाड़ी तेज गेंदबाज स्ट्रेकर (24 रन देकर छह विकेट) के आगे संघर्ष करते रहे जिससे टीम बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद महज 179 रन का स्कोर ही खड़ा पर पाई. अगर अराफात मिन्हास (52 रन) और अजान अवेस (52 रन) के अर्धशतक नहीं होते तो यह स्कोर और कम होता.

A post shared by ICC (@icc)

 

ऑस्ट्रेलिया का यह छठा फाइनल होगा

भारतीय टीम अपना नौवां फाइनल खेलेगी जबकि ऑस्ट्रेलिया का यह छठा फाइनल होगा. भारत ने रिकॉर्ड पांच खिताब जीते हैं जबकि ऑस्ट्रेलिया के नाम तीन ट्राफियां रही हैं. पिछली बार ऑस्ट्रेलिया ने 2010 में यह ट्रॉफी पाकिस्तान को हराकर जीती थी. ऑस्ट्रेलियाई टीम भी पाकिस्तानी गेंदबाजों के आगे जूझती दिखी, लेकिन इसके बावजूद 49.1 ओवर में नौ विकेट पर 181 रन बनाकर फाइनल में पहुंचने में सफल रही. इसमें डिक्सन (75 गेंद में 50 रन, पांच चौके) और ओलिवर पीके (75 गेंद में 49 रन, तीन चौके) की पारियों का अहम योगदान रहा.

 Read Also: MS DHONI और हार्दिक पांड्या नहीं, ये खूंखार खिलाड़ी है आईपीएल 2024 का सबसे महंगा कप्तान

पाकिस्तानी गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को मेहनत कराई

पाकिस्तानी गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को प्रत्येक रन के लिए मेहनत कराई. ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज डिक्सन और सैम कोन्सास (14) ने मिलकर 33 रन जोड़े, लेकिन टीम ने 6.2 ओवर में 26 रन जोड़कर चार विकेट गंवा दिए जिससे टीम मुश्किल में थी. हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम दबाव का जितनी अच्छी तरह सामना करती है, उतना ज्यादा टीम नहीं कर पाती हैं और उन्होंने मुकाबले में इसी जज्बे का प्रदर्शन किया. ऑस्ट्रेलिया के मिडिल ऑर्डर ने एक दो रन लेने के अलावा बीच बीच में बाउंड्री से रन जुटाने पर ध्यान लगाया.

डिक्सन और पीके ने 43 रन जोड़े

टूर्नामेंट में तीसरा अर्धशतक जड़ने वाले डिक्सन और पीके ने मिलकर पांचवें विकेट के लिए 43 रन जोड़े जिससे टीम लक्ष्य तक पहुंचने की दौड़ में बनी रही. लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर मिन्हास ने तेज स्पिन होती गेंद पर डिक्सन के स्टंप उखाड़कर इस भागीदारी को तोड़ दिया. इसके बाद पीके और टॉम कैम्पबेल (25 रन, 42 गेंद, दो चौके) ने कोई जोखिम उठाए बिना 44 रन की भागीदारी बनाई. अराफात ने आर्म गेंद से कैम्पबेल के ऑफ स्टंप उखाड़कर इस साझेदारी का अंत किया.

 Read Also: डेविड बेडिंघम, केन विलियमसन की बल्लेबाजी के हुए फैन, “बेहतर खिलाड़ी बन जाएंगे”

Vinod Maurya
Vinod Maurya
Vinod Maurya has 2 years of experience in writing Finance Content, Entertainment news, Cricket and more. He has done B.Com in English. He loves to Play Sports and read books in free time. In case of any complain or feedback, please contact me @informalnewz@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments