Thursday, April 25, 2024
HomeNewsIND Vs ENG 3rd test match : मैच के बीचो-बीच टीम को...

IND Vs ENG 3rd test match : मैच के बीचो-बीच टीम को तगड़ा झटका अश्विन हुए मैच से बाहर

IND Vs ENG 3rd test match : मैच के बीचो-बीच टीम को तगड़ा झटका अश्विन हुए मैच से बाहर आपको बता दें, इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे राजकोट टेस्ट के बीच भारतीय टीम को करारा झटका लगा है। भारत के ऑलराउंडर खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन मैच के बीच ही पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं। अश्विन ने मेडिकल इमरजेंसी के कारण अपना नाम इंग्लैंड के खिलाफ पूरी सीरीज से वापस ले लिया है। चौथे मैच में तो भारतीय टीम अश्विन का रिप्लेसमेंट तलाश लेगी, लेकिन बड़ा सवाल है कि तीसरे टेस्ट मैच के बचे हुए 3 दिनों का खेल क्या भारत सिर्फ 10 खिलाड़ियों के साथ ही खेलेगा, या फिर भारत की प्लेइंग इलेवन में बीच मैच किसी की एंट्री होने वाली है।

विस्फोटक बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल फील्डिंग के लिए मैदान पर

रविचंद्रन अश्विन की जगह मैच के तीसरे दिन विस्फोटक बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल फील्डिंग के लिए मैदान पर उतरे हैं। इससे फैंस के मन में सवाल उठ रहा है कि क्या पडिक्कल सिर्फ फील्डिंग के लिए ही टीम इंडिया के साथ जुड़े हैं या फिर वह बल्ले से भी टीम के लिए योगदान देने वाले हैं।

 Read Also: IND vs ENG Live Score 3rd Test: ध्रुव जुरेल और आर अश्विन के बीच अर्धशतकीय साझेदारी से 400 के पास पहुंचा भारत

बता दें कि पडिक्कल स्पिन गेंदबाज अश्विन के रिप्लेसमेंट नहीं हैं, वह सिर्फ बतौर फील्डर टीम के साथ जुड़े हैं। अगर वह रिप्लसमेंट होते तो भी वह इस पारी में ना ही तो गेंद के साथ और ना ही बल्ले के साथ योगदान दे सकते थे। ऐसे में फैंस की नजर इस बात पर भी टिकी है कि अश्विन के रिप्लेसमेंट के तौर पर चौथे टेस्ट मैच में किस खिलाड़ी को मौका मिलता है।

जानिए क्या है रिप्लेसमेंट का पूरा नियम

एमसीसी के नियम के अनुसार अगर विरोधी टीम के कप्तान बीच मैच रिप्लेसमेंट के लिए मान भी जाते हैं, तो रिप्लेसमेंट के तौर पर टीम में शामिल हुआ खिलाड़ी उस पारी में फील्डिंग के अलावा गेंद या फिर बल्ले से योगदान नहीं दे सकेंगे। इसका मतलब है कि अगर पडिक्कल आर अश्विन के रिप्लेसमेंट भी होते, तो भी वह इंग्लैंड की पहली पारी में ना ही तो गेंद से और ना ही बल्ले के साथ अपना योगदान दे सकते थे।

मात्र 10 खिलाड़ी के साथ खेलेगा भारत

बता दें कि भारतीय टीम फील्डिंग करने के दौरान भले ही 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगी, लेकिन जब बात बल्लेबाजी और गेंदबाजी करने की आएगी, तो भारत के पास 11वां खिलाड़ी का ऑप्शन नहीं होगा। इसी कारण से भारत 11 खिलाड़ी के मैदान पर होने के बाद भी सिर्फ 10 खिलाड़ियों के साथ राजकोट टेस्ट मैच खेलने वाला है।

इससे भारत को 11वें खिलाड़ी की खूब कमी खलने वाली है। रविचंद्रन अश्विन गेंद के साथ-साथ बल्ले से भी कमाल दिखाने की काबिलियत रखते हैं। अश्विन ने राजकोट टेस्ट में ही अपना 500वां विकेट लिया है। वह भारत के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं, ऐसे में अगर अश्विन होते तो इससे भारत की गेंदबाजी को मजबूती मिलती।

 Read Also: रिवर्स स्कूप मारने के चक्कर में “जसप्रीत बुमराह” की गेंद पर बच्चों वाली गलती कर बैठे जो रूट, देखें वीडियो

Vinod Maurya
Vinod Maurya
Vinod Maurya has 2 years of experience in writing Finance Content, Entertainment news, Cricket and more. He has done B.Com in English. He loves to Play Sports and read books in free time. In case of any complain or feedback, please contact me @informalnewz@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments