Monday, September 26, 2022
HomeSportsT20 WC में भारत को महंगी पड़ सकती है एक खिलाड़ी की...

T20 WC में भारत को महंगी पड़ सकती है एक खिलाड़ी की कमी, आखिर कौन है ये खिलाड़ी

India T20 World Cup Squad: ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप में भारतीय टीम को खेल के हर डिपार्टमेंट में एक खिलाड़ी की कमी खलेगी. इसके विकल्प के तौर पर कुछ खिलाड़ियों को वर्ल्ड कप स्क्वॉड में चुना तो गया है. लेकिन, इनमें से कौन विश्व कप के दौरान प्लेइंग-XI का हिस्सा बन सकता है. इसकी परीक्षा या आजमाइश ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली घरेलू टी20 सीरीज में होगी.

Read Also: Jio Fiber दे रहा है सबसे सस्ता रिचार्ज, केवल इतने रुपये में मिलेगा अनलिमिटेड डेटा ,कॉलिंग और बहुत कुछ check here full update

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय टीम इंडिया का ऐलान हो चुका है. हालांकि, इस टीम में घुटने की चोट के कारण रवींद्र जडेजा को शामिल नहीं किया गया है. भारत को जडेजा की कमी खलेगी, क्योंकि बीते कुछ सालों में वो गेंदबाज के साथ-साथ एक बल्लेबाज के रूप में भी उभरे हैं और मौका पड़ने पर टीम को बल्ले से जीत दिलाने में अहम रोल निभाया है. ऐसे में इस खिलाड़ी की जगह लेना किसी के लिए भी आसान नहीं होगा. हालांकि, भारतीय टीम मैनेजमेंट ने जडेजा के स्थान पर उनके जैसे ही बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल को विश्व कप के स्क्वॉड में शामिल किया है.

अक्षर के अलावा भी कई खिलाड़ी हैं, जिन्हें जडेजा के विकल्प के तौर पर टी20 विश्व कप के स्क्वॉड में चुना गया है. अब इनमें से कौन सा खिलाड़ी, टी20 विश्व कप के दौरान भारतीय टीम के प्लेइंग-XI का हिस्सा बनता है, इसका टेस्ट या आजमाइश ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाली घरेलू टी20 सीरीज में होगी.

Read Also: Vivo Smartphone: Vivo ने लॉन्च किया 13 हजार से सस्ता Smartphone, डिजाइन देख आप खुशी से झूम उठेंगे

टी20 विश्व कप के लिए चुनी गई टीम में जडेजा का विकल्प कौन हो सकता है? यह जानने से पहले यह समझ लेते हैं कि जडेजा कितने अहम हैं और उनके टीम में नहीं रहने से क्या नुकसान हो सकता है. जडेजा सिर्फ बाएं हाथ से गेंदबाजी ही नहीं करते, बल्कि बीते कुछ साल में एक बल्लेबाज के तौर पर भी उनका प्रदर्शन लाजवाब रहा है और उनकी फील्डिंग को तो किसी भी सूरत में नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. वो अपनी फील्डिंग से ही मैच का रुख पलटने की काबिलियत रखते हैं. इसे आंकड़ों से भी समझा जा सकता है.

जडेजा ने सितंबर 2020 से अब तक यानी बीते 2 साल में 15 टी20 में 56.80 की औसत से 284 रन बनाए हैं. उनका स्ट्राइक रेट भी 140 से ऊपर का है. इस अवधि में जडेजा ने चार बार 30 प्लस स्कोर किया है और इसमें से तीन मौकों पर वो नाबाद लौटे हैं. यानी टीम के लिए मैच फिनिश किया है. मतलब, साफ है कि वो बीते 2 साल में जरूरत पड़ने पर मैच फिनिशर की भूमिका भी निभा रहे. इसी अवधि में जडेजा ने 15 मैच में 6.84 की इकोनॉमी रेट से 12 विकेट लिए हैं, जोकि उनकी करियर इकोनॉमी 7.04 से कम है. वहीं, जडेजा ने हर 22वीं गेंद पर विकेट लिया है. यानी जडेजा के नहीं होने से भारत को बड़ा नुकसान होगा.

Read Also: T20 World Cup: T20 World Cup में भारत पाकिस्तान की उड़ा देगा धज्जियाँ ये है खास वजह

अब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में उनके विकल्प के तौर पर किन खिलाड़ियों को आजमा सकती है, उसे समझ लेते हैं.

अक्षर पटेल को आजमाया जा सकता है जोकि जरूरी भी है

अक्षर पटेल को रवींद्र जडेजा के चोटिल होने के कारण ही टी20 विश्व कप के स्क्वॉड में शामिल किया गया है. वो भी जडेजा की तरह बाएं हाथ से स्पिन गेंदबाजी करते हैं. वो नंबर-7 पर उपयोगी खिलाड़ी साबित हो सकते हैं. हालांकि, वो जडेजा की तरह ऐसे बल्लेबाज नहीं हैं, जिन्हें टॉप ऑर्डर में भी भेजा जा सकता है. वो निचले क्रम में ही बल्लेबाजी कर सकते हैं. यानी अगर उन्हें प्लेइंग-XI में मौका दिया जाता है, तो इससे गेंदबाजी तो मजबूत हो जाएगी. कम से कम छठे गेंदबाज के रूप में एक बेहतर विकल्प मिल जाएगा. लेकिन, बल्लेबाजी में उतनी गहराई नहीं रहेगी. अक्षर ने इस साल 11 टी20 खेले हैं और इसमें से 5 में बल्लेबाजी नहीं की. उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 20 रन है. जो कहीं न कहीं टीम की परेशानी बढ़ाने वाला है.

Read Also: Flipkart Sale: iPhone 13 और iPhone 12 mini पर पायें बंपर डिस्काउंट, Check here full Details

दीपक हुड्डा को भी परखा जा सकता है

दीपक हुडा को भी टी20 विश्व कप के साथ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 टी20 की सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया है. वो एशिया कप में 3 मैच खेले थे. हालांकि, वो बल्ले से कुछ खास नहीं कर पाए थे. दीपक भी नंबर-7 पर भारत के लिए अहम खिलाड़ी साबित हो सकते हैं. वो बल्लेबाजी के साथ-साथ ऑफ स्पिन गेंदबाजी कर लेते हैं. हुडा को अगर भारत की प्लेइंग-XI में शामिल किया जाता है, तो उससे बल्लेबाजी तो जरूर मजबूत होगी. लेकिन, फिर हार्दिक पंड्या पर ज्यादातर मौकों पर अपने कोटे के 4 ओवर फेंकना का दबाव आ जाएगा, जिसमें वो एशिया कप में संघर्ष करते नजर आए थे.

Read Also: T20 World Cup: भारत-पाकिस्तान वर्ल्ड कप के ‘महामुकाबले में’,ये खतरनाक खिलाड़ी हुआ बाहर

इसे ही जांचने के लिए भारतीय टीम मैनेजमेंट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में दीपक को आजमा सकता है, ताकि टी20 विश्व कप से पहले यह साफ हो सके कि वो जडेजा की जगह ले सकते हैं या नहीं. हुडा ने इसी साल टी20 डेब्यू किया है. उन्होंने अब तक खेले 12 टी20 में 41 की औसत 156 की स्ट्राइक रेट से 293 रन बनाए हैं. वो तीन नंबर पर खेलते हुए शतक भी ठोक चुके हैं.

अश्विन भी हो सकते हैं विकल्प

अश्विन भी जडेजा के विकल्प हो सकते हैं. उन्होंने आईपीएल-2022 में राजस्थान रॉयल्स के लिए निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी की थी. बीते 1 साल में उन्होंने टी20 के लिहाज से अपनी बल्लेबाजी में काफी सुधार किया है. उनके पास ऑस्ट्रेलिया में खेलने का अनुभव है और वो टी20 में पावरप्ले के साथ ही बीच के ओवर में भी किफायती गेंदबाजी कर रहे हैं. हालांकि, अक्षर की तरह, अश्विन टी20 के बल्लेबाज नहीं है. ऐसे में अगर उन्हें टी20 विश्व कप में मौका मिलता है, तो डेथ ओवर के लिहाज से भारतीय बल्लेबाजी में फायर पावर की कमी जरूर रहेगी. लेकिन, एक गेंदबाज के तौर पर अश्विन बेहतर विकल्प साबित हो सकते हैं. ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर उनकी वेरिएशन और टॉप स्पिन गेंदबाजी कमाल कर सकती है.

Read Also: Big News! Video Call पर महिला ने उतारे कपड़े और 75 साल के बुजुर्ग को लग गया 2 लाख रुपये का चूना, ये था मामला वीडियो हुआ वायरल

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments