Friday, July 19, 2024
HomeSportsSuper-8 match : सुपर-8 मुकाबले से पहले रविंद्र जडेजा टीम से बाहर,...

Super-8 match : सुपर-8 मुकाबले से पहले रविंद्र जडेजा टीम से बाहर, अब इस प्रकार होगी नयी प्लेइंग 11

ICC T20 World Cup 2024 के लिए जब भारतीय स्क्वॉड का ऐलान हुआ था, तब स्क्वॉड में चार स्पिनरों का नाम देखकर काफी लोग हैरान हुए थे, तब कप्तान रोहित शर्मा ने बताया था कि इसके पीछे कुछ अहम कारण हैं, जो वो बाद में बताएंगे। टीम इंडिया ने अपने लीग मैच अमेरिका में खेले, जहां तेज गेंदबाजों को ज्यादा मदद मिली और ऐसे में स्पेशलिस्ट स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल दोनों के लिए प्लेइंग XI में कोई जगह नहीं बन पाई, जबकि रविंद्र जडेजा और अक्षर पटेल को बॉलिंग ऑलराउंडर के तौर पर प्लेइंग XI में शामिल किया गया।

सुपर-8 में टीम इंडिया अपने विनिंग कॉम्बिनेशन

अब देखना यह होगा कि क्या सुपर-8 में चीजें बदलती हैं, क्या सुपर-8 में टीम इंडिया अपने विनिंग कॉम्बिनेशन में बदलाव करती है, क्या कुलदीप यादव की प्लेइंग XI में वापसी होती है और क्या उनकी वापसी से रविंद्र जडेजा के रास्ते बंद होते हैं? लीग राउंड में रविंद्र जडेजा ने ना कोई रन बनाया और ना ही कोई विकेट चटकाया, वहीं अक्षर पटेल ने बॉलिंग और बैटिंग दोनों से प्रभावित किया, ऐसे में उनको प्लेइंग XI में बनाए रखने का फैसला फॉर्म के आधार पर लिया जा सकता है।

टीम इंडिया के प्लेइंग XI कॉम्बिनेशन

ईएसपीएनक्रिकइंफो टाइमआउट शो में स्टीफन फ्लेमिंग ने टीम इंडिया के प्लेइंग XI कॉम्बिनेशन को लेकर चर्चा की, उन्होंने कहा, ‘अभी तक ऐसा नहीं हुआ, लेकिन अब युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव दोनों के लिए मौके बनते हैं। आप एक तरह से खेलने के इतने आदी नहीं हो सकते हैं कि आप परिस्थितियों का फायदा उठाने के लिए टीम में बदलाव ही नहीं करें। मुझे लगता है विकेट लेने के मामले में भारत और आक्रामकता दिखाने के लिए कुलदीप यादव को प्लेइंग XI में उतार सकता है। अगर टूर्नामेंट के अंत तक विकेट से ज्यादा टर्न मिलता है, तो ऐसे में कुलदीप यादव को शामिल किया जाना चाहिए।’

टीम इंडिया में दो लेफ्ट आर्म स्पिनर्स के साथ में खेलने को लेकर फ्लेमिंग ने कहा

टीम इंडिया में दो लेफ्ट आर्म स्पिनर्स के साथ में खेलने को लेकर फ्लेमिंग ने कहा, ‘कई बार दो एक जैसे स्पिनरों को मैनेज करना मुश्किल हो जाता है। मिचेल सैंटनर और रविंद्र जडेजा का चेन्नई सुपरकिंग्स में एकजैसा रोल है। सिलेक्शन के समय यह सोचना पड़ता है कि क्या आप आठ ओवर एकजैसी गेंदबाजी के कराना चाहोगे? लेकिन अगर परिस्थितियां सही होती हैं, तो अपनी बैटिंग क्षमता से दोनों काफी अहम हो जाते हैं। जडेजा को सही कंडीशन में इस्तेमाल करने से टीम इंडिया खतरनाक टीम बन सकती है। अक्षर के लिए न्यूयॉर्क सही था और जडेजा के लिए कैरेबियाई परिस्थितियां बेहतर हो सकती हैं।’

इसे भी पढ़ें –
Vinod Maurya
Vinod Maurya
Vinod Maurya has 2 years of experience in writing Finance Content, Entertainment news, Cricket and more. He has done B.Com in English. He loves to Play Sports and read books in free time. In case of any complain or feedback, please contact me @informalnewz@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments