...
Monday, February 26, 2024
HomeNewsस्मार्टफोन चार्ज करने की ये ट्रिक, बार-बार चार्ज करने की झंझट...

स्मार्टफोन चार्ज करने की ये ट्रिक, बार-बार चार्ज करने की झंझट को कर देगा ख़त्म? जानिए क्या है ट्रिक

Trick to charge smartphone : स्मार्टफोन चार्ज करने की ये ट्रिक बार-बार चार्ज करने की झंझट को कर देगा ख़त्म, आपको बता दें कि, जैसे-जैसे स्मार्टफोन पुराना होता जाता है, इसकी बैटरी पहले की तरह नहीं चल पाती है. इसका एक कारण यह है कि बैटरी के अंदर मौजूद सेल्स समय के साथ खराब होने लगते हैं. हालांकि, हम भी जाने-अनजाने में फोन की बैटरी को डैमेज कर सकते हैं. आइए जानते हैं क्या है वजह…

आज के डिजिटल युग में, फोन हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन गया है. हम फोन से पेमेंट करना, मेल चेक करना, सोशल मीडिया पर सक्रिय रहना, और बहुत कुछ करते हैं. इसलिए, जब फोन की बैटरी अचानक बंद हो जाए, तो यह काफी परेशानी का कारण बन सकती है. जैसे-जैसे स्मार्टफोन पुराना होता जाता है, इसकी बैटरी पहले की तरह नहीं चल पाती है. इसका एक कारण यह है कि बैटरी के अंदर मौजूद सेल्स समय के साथ खराब होने लगते हैं. हालांकि, हम भी जाने-अनजाने में फोन की बैटरी को डैमेज कर सकते हैं. आइए जानते हैं क्या है वजह…

बैटरी की चार्ज साइकल्स | battery charge cycles

बैटरी की लाइफ को चार्ज साइकल्स में मापा जाता है. एक चार्ज साइकिल तब होती है जब बैटरी को 0% से 100% तक चार्ज किया जाता है. आमतौर पर, बैटरी की लाइफ 500 से 1000 चार्ज साइकल्स तक होती है.

इसका मतलब है कि जब तक आप अपनी बैटरी को 500 से 1000 बार 0% से 100% तक चार्ज नहीं करते हैं, तब तक यह अच्छी तरह से काम करेगी. लेकिन, जब आप अपनी बैटरी को ओवरनाइट चार्ज करते हैं, तो यह 100% चार्ज होने के बाद भी चार्जिंग जारी रखता है. इस प्रक्रिया को बैटरी ट्रिकल कहा जाता है। बैटरी ट्रिकल से बैटरी की लाइफ कम हो सकती है.

आईफोन की बैटरी बचाने वाला फीचर | iPhone battery saving feature

iPhones में एक फीचर होता है जो बैटरी ट्रिकल होने से रोकता है. आईफोन में, बैटरी ड्रेन को नियंत्रित करने के लिए एक विशेषता प्रदान की जाती है. जब आप सोते हैं और जागते हैं, तो यह स्वचालित रूप से पहचान लेता है और उसके अनुसार फोन को चार्ज करता है. ध्यान रखें कि आपने इस विशेषता को सेटिंग्स में सक्षम किया होना चाहिए. ज्यादातर एंड्रॉयड फोन्स में यह सुविधा उपलब्ध नहीं है, इसलिए आप बैटरी ऑप्टिमाइजेशन को इस्तेमाल कर सकते हैं.

जानिए क्या है सही प्रैक्टिस? | Know what is the correct practice?

  • अपने फोन को ओवरनाइट चार्जिंग पर न छोड़ें. जब आप अपने फोन को चार्ज करते हैं, तो यह 100% चार्ज होने के बाद भी चार्जिंग जारी रखता है. यह प्रक्रिया को बैटरी ट्रिकल कहा जाता है, जो बैटरी की लाइफ को कम कर सकती है.
  • अपने फोन को 20% से 80% के बीच होने पर चार्ज करें. यह बैटरी की लाइफ को बचाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है.
  • अपने फोन को 100% तक चार्ज करने से बचें. 100% चार्जिंग से बैटरी की लाइफ कम हो सकती है.
  • अपने फोन को पूरी तरह से बंद होने से बचें. जब आपका फोन 0% तक डिस्चार्ज हो जाता है, तो यह बैटरी को नुकसान पहुंचा सकता है.

 Read Also: Big news! अगले हफ्ते लॉन्च होने वाले हैं ये 5 Top Smartphones, जिन्हे जानकर आप खरीदने पर हो जाओगे मजबूर

Vinod Maurya
Vinod Maurya
Vinod Maurya has 2 years of experience in writing Finance Content, Entertainment news, Cricket and more. He has done B.Com in English. He loves to Play Sports and read books in free time. In case of any complain or feedback, please contact me @informalnewz@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments